चंदालावडा आनंदा सुंदररमन भवानी देवी (27) जो भवानी देवी के नाम से ज़्यादा मशहूर हैं, तमिलनाडु के चेन्नई की रहने वाली तलवारबाज़ हैं | 2018 के कॉमनवेल्थ खेलों में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीत कर भवानी देवी तलवारबाज़ी में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई थीं | भवानी देवी ने 2015 की एशियाई चैंपियनशिप की अंडर-23 वर्ग में कांस्य पदक तो 2014 में इसी वर्ग का रजत पदक जीता था | इसके अलावा वो कई अन्य अंतररराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भी पदक जीत चुकी हैं |

सी ए भवानी देवी – तमिलनाडु, तलवारबाज़ी

भावना जाट (24) राजस्थान के अजमेर ज़िले की रहने वाली एथलीट हैं | वो 20 मीटर की रेस वाकिंग मुक़ाबलों में भाग लेती हैं | 2020 में उन्होंने नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाते हुए नेशनल चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था | नेशनल चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने से उन्हें टोक्यो ओलंपिक का भी टिकट हासिल हो गया | 2016 में भावना ने जूनियर नेशनल चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था |  अपने शुरुआती दिनों में भावना को खेल के लिए ज़रूरी संसाधनों की क़िल्लत का भी सामना करना पड़ा था | वो ट्रैफिक से बचने के लिए अपने गांव के इर्द गिर्द तड़के अभ्यास किया करती थीं |

भावना जाट – राजस्थान, एथलेटिक्स

अर्चना गिरीश कामथ (20) कर्नाटक के बेंगलुरू की रहने वाली टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं | उन्होंने 2019 में सीनियर वीमेन्स नेशनल टेबल टेनिस चैंपियनशिप जीती थी, जिसके बाद उन्हें भारत की राष्ट्रीय टेबल टेनिस टीम में जगह मिल गई थी | पिछले साल अर्चना ने कॉमनवेल्थ टेबल टेनिस चैंपियनशिप के डबल्स मुक़ाबले में स्वर्ण पदक जीता था | 2018 में अर्चना ने युवा ओलंपिक्स के लिए क्वालिफाई किया था. वो सेमीफाइनल तक पहुंची थीं और चौथे स्थान पर रही थीं |

अर्चना कामथ – कर्नाटक, टेबल टेनिस

अपूर्वी चंदेला (28) राजस्थान के जयपुर की रहने वाली स्पोर्ट्स शूटर हैं. वो 10 मीटर एयर राइफल प्रतियोगिताओं में भाग लेती हैं | 2019 में अपूर्वी ने ISSF वर्ल्ड कप में नया विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीता था. इस जीत से उनका टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने का टिकट भी पक्का हो गया था | अपूर्वी ने अपना पहला बड़ा अंतरराष्ट्रीय मेडल 2014 के कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक के रूप में जीता था | उन्होंने 2015 के वर्ल्ड कप में कांस्य पदक जीता था | अपूर्वी को 2016 में प्रतिष्ठित अर्जुन पुरस्कार दिया गया था |

अपूर्वी चंदेला – राजस्थान, निशानेबाज़ी

उत्तर प्रदेश के बस्ती ज़िले की रहने वाली अन्नू रानी (28) जेवलिन थ्रो के मुक़ाबलों में भाग लेती हैं | 2019 में अन्नू ने एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था | इस जीत के चलते अन्नू, वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में हिस्सा लेने के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई | 2017 में अन्नू रानी ने इसी प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता था | भारत में भाला फेंकने का राष्ट्रीय रिकॉर्ड उन्हीं के नाम है | बचपन में अन्नू के परिवार के पास इतने पैसे नहीं थे कि वो उनके प्रैक्टिस करने के लिए भाला ख़रीद सकें. तब अन्नू ने बांस से अपने लिए भाला तैयार किया था |

अन्नू रानी – उत्तर प्रदेश, एथलेटिक्स

अंकिता रविंदरकृष्ण रैना (28) एक पेशेवर टेनिस खिलाड़ी हैं, जो गुजरात के अहमदाबाद से ताल्लुक़ रखती हैं | इस वक़्त वो भारत की महिला सिंगल्स और युगल दोनों ही वर्गों की पहले नंबर की खिलाड़ी हैं | 2018 में अंकिता ने एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता था. इस जीत के चलते, सानिया मिर्ज़ा के बाद वो दूसरी भारतीय खिलाड़ी बन गईं, जिन्होंने एशियाई खेलों के सिंगल्स मुक़ाबलों में कोई पदक जीता है | 2018 में ही अंकिता ने विश्व की 200 सर्वश्रेष्ठ महिला टेनिस खिलाड़ियों की रैंकिंग में जगह बनाई थी | ये दर्जा हासिल करने वाली वो पांचवीं भारतीय खिलाड़ी हैं |

अंकिता रैना – गुजरात, टेनिस 

अनीता देवी (36) एक निशानेबाज़ हैं, जो हरियाणा के पलवल ज़िले से ताल्लुक़ रखती हैं | वो 10 मीटर और 25 मीटर एयर पिस्टल की प्रतियोगिताओं में भाग लेती हैं | 2016 में अनीता ने अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज़ी प्रतियोगिता में 10 मीटर एयर पिस्टल का रजत पदक और 25 मीटर एयर पिस्टल वर्ग में कांस्य पदक जीता था | अनीता ने 2015 के राष्ट्रीय खेलों में रजत पदक जीता था | उससे पहले उन्होंने 2013 की राष्ट्रीय निशानेबाज़ी चैंपियनसिप में स्वर्ण पदक भी जीता था. अब अनीता देवी का बेटा इसी खेल की ट्रेनिंग ले रहा है |

अनीता देवी – हरियाणा, निशानेबाज़ी

to be continued…

#rahulinvision